Hawa Sard Hai Lyrics From Bol Radha Bol [English Translation]

Hawa Sard Hai Lyrics: The song ‘Hawa Sard Hai’ from the Bollywood movie ‘Bol Radha Bol’ in the voice of Abhijeet Bhattacharya and Alka Yagnik. The song lyrics was penned by Sameer and music is composed by Anand Shrivastav, and Milind Shrivastav. It was released in 1992 on behalf of Tips Music.The Music Video Features Juhi Chawla & Rishi KapoorArtist: Abhijeet Bhattacharya & Alka YagnikLyrics: SameerComposed: Anand Shrivastav & Milind ShrivastavMovie/Album: Bol Radha BolLength: 5:25Released: 1992Label: Tips Music

Hawa Sard Hai Lyrics

हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
बंद कमरे में
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
पास बैठो
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लोसुरमई घटा शबनमी समां
दिल में प्यास है धड़कनें जवान
सुरमई घटा शबनमी समां
दिल में प्यास है धड़कनें जवान
ऐसे हम भला अब दूर क्यों रहे
मिलके जुदाई का यह दर्द क्यों सहे
छू के गुलाबी लबों को छाने लगा है नशा
बाहों में आके तेरी क्यों आने लगा है मज़ा
अपनी निगाहों में नज़र बंद कर लो
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लोसिर्फ हम यहां तीसरा नहीं
बीत जाए न वक़्त यह हसीं
सिर्फ हम यहां तीसरा नहीं
बीत जाए न वक़्त यह हसीं
दुर्री नहीं कोई दोनों के दरम्यान
किस्मत से है मिला मौका यह दिलरुबा
यह मेरे दिल की सदा है मुझको गले से लगा
साँसों में तुझको बसा लू
ा मेरी बाहों में आ
हुस्न के जलवों को तुम पसन्द कर लो
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो

Hawa Sard Hai Lyrics English Translation

हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
बंद कमरे में
in a closed room
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
पास बैठो
sit close
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
sit near
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
सुरमई घटा शबनमी समां
Surmai Ghata Shabnami Sama
दिल में प्यास है धड़कनें जवान
There is thirst in the heart, beating young
सुरमई घटा शबनमी समां
Surmai Ghata Shabnami Sama
दिल में प्यास है धड़कनें जवान
There is thirst in the heart, beating young
ऐसे हम भला अब दूर क्यों रहे
Why should we stay away like this now?
मिलके जुदाई का यह दर्द क्यों सहे
Why should we bear this pain of separation together?
छू के गुलाबी लबों को छाने लगा है नशा
Touching pink lips has started filtering intoxication
बाहों में आके तेरी क्यों आने लगा है मज़ा
Why have you started coming in your arms?
अपनी निगाहों में नज़र बंद कर लो
close your eyes
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
sit near
पास बैठो ज़रा बातें चाँद कर लो
sit near
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
सिर्फ हम यहां तीसरा नहीं
only we are not the third here
बीत जाए न वक़्त यह हसीं
Time does not pass, it laughs
सिर्फ हम यहां तीसरा नहीं
only we are not the third here
बीत जाए न वक़्त यह हसीं
Time does not pass, it laughs
दुर्री नहीं कोई दोनों के दरम्यान
There is no distance between the two
किस्मत से है मिला मौका यह दिलरुबा
I got this chance by luck.
यह मेरे दिल की सदा है मुझको गले से लगा
It’s always in my heart, I hugged
साँसों में तुझको बसा लू
let me hold you in my breath
ा मेरी बाहों में आ
come in my arms
हुस्न के जलवों को तुम पसन्द कर लो
you like the waters of beauty
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
हवा सर्द है खिड़की बंद कर लो
the wind is cold close the window
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room
बंद कमरे में चाहत बुलंद कर लो
raise your desire in a closed room

Leave a Comment